10 अगस्त को उपराष्ट्रपति करेंगे मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का शुभारंभ


    रांची में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कृषि सचिव पूजा सिंघल ने मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना की शुरुआत को लेकर की जा रही तैयारियों की विस्तृत जानकारी दी। संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने कहा कि उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडु 10 अगस्त को मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना की शुरुआत करेंगे। इस योजना की लॉन्चिंग को लेकर रांची के हरमू मैदान में सुबह 11.30 बजे से मुख्य समारोह के साथ- साथ राज्य के सभी जिलों में भी कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

    कृषि सचिव ने बताया कि अबतक 13.60 लाख किसानों की ऑनलाइन प्रविष्टि हो चुकी है। 3000 करोड़ रुपए की इस योजना के तहत पहले चरण के लिए 800 करोड़ रुपए की राशि जारी कर दी गई है। किसानों को दो किस्तों में यह राशि दी जाएगी औऱ पहले चरण में 400 करोड़ दिए जा रहे हैं।  

    कृषि सचिव पूजा सिंघल ने  कहा कि मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना की शुरुआत के लिए रांची में आय़ोजित होने वाले मुख्य समारोह को लेकर पांच जिले भी इससे ऑनलाइन जुड़े रहेंगे। इन जिलों में पूर्वी सिंहभूम, गिरिडीह, पाकुड़, लातेहार औऱ चतरा जिला शामिल हैं। रांची में चयनित किसानों को मुख्य समारोह में इस योजना का लाभ दिया जाएगा, जबकि अन्य जिलों में होनेवाले समारोह में सांसद, विधायक और अन्य जन प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे।

    पूजा सिंघल ने बताया कि पहले चरण में 15 लाख किसानों को इस योजना के दायरे में लाया गया है, लेकिन अक्टूबर तक 35 लाख किसानों को इस योजना के दायरे में लेकर आएंगे। इस योजना के अंतर्गत लभी लघु एवं सीमांत किसानों को कृषि कार्य हेतु प्रति एकड़ पांच हजार रुपए की दर से अधिकतम 25 हजार रुपए आर्थिक सहायता दी जाएगी। यह राशि दो किस्तों में दी जाएगी। पहली किस्त में ढ़ाई हजार रुपए और दूसरी किस्त में फिर ढ़ाई हजार रुपए डीबीटी के जरिए किसानों के खाते में भेजे जाएंगे।

    कृषि सचिव ने बताया कि पहले चरण में जिन 13.60 लाख किसानों को पहली किस्त की राशि दी जा रही है, उनमें 83 प्रतिशत के पास दो एकड़ से कम कृषि योग्य जमीन है। इसमें 65 प्रतिशत किसानों के पास एक एकड़ से कम और 18 प्रतिशत किसानों के पास एक से दो एकड़ के बीच जमीन है।  

    सूचना एवं जन संपर्क विभाग के निदेशक रामलखन प्रसाद गुप्ता ने संवाददाताओं को बताया कि इस मौके पर किसान सारथी रथ को भी उप राष्ट्रपति रवाना करेंगे। इसका मकसद मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना समेत अन्य कृषि योजनाओं की जानकारी किसानों को देना है, ताकि वे इसका फायदा उठा सकें।  उन्होंने कहा कि सभी जिलों में किसान सारथी रथ 45 दिनों के अंदर सभी पंचायतों को कवर करेगा। यह रथ जीपीएस प्रणाली से युक्त है और सूचना एवं जन संपर्क मुख्यालय से इसकी निरंतर मॉनिटरिंग की जाएगी।

    रांची के उपायुक्त राय महिमापत रे ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उप राष्ट्रपति के आगमन को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। हरमू स्थित मुख्य समारोह स्थल में उपराष्ट्रपति का आगमन पूर्वाह्न 11.45 बजे होगा और लगभग एक घंटे तक वे यहां रहेंगे। इस समारोह मे लगभग 10 हजार लोग शामिल होने की उम्मीद है। यहां पेयजल, शौचालय की व्यवस्था के साथ विधि व्यवस्था को बनाए रखने के लिए पर्याप्त संख्या में मजिस्ट्रेट व जवान तैनात रहेंगे।उन्होंने यह भी बताया कि उपराष्ट्रपति के आगमन को लेकर किसी मार्ग को अवरुद्ध नहीं किया जाएगा, लेकिन जिस रुट से वे गुजरेंगे, उस दौरान कुछ मिनटों के लिए यातायात को रोका जाएगा। इस संवाददाता सम्मेलन में कृषि निदेशक छवि रंजन, रांची के उपायुक्त राय महिमापत रे और सूचना एवं जन संपर्क विभाग के निदेशक श्री रामलखन प्रसाद गुप्ता समेत अन्य मौजूद रहे। .