जन कल्याणकारी योजनाओं को घर-घर तक पहुंचाएं


    जन कल्याणकारी योजनाओं को घर-घर तक पहुंचाने के लिए गठित की गई 20 सूत्री प्रदेश/ जिला एवं प्रखंड कार्यालय समिति की समीक्षात्मक बैठक का आयोजन झारखण्ड मंत्रालय में किया गया। इस बैठक में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि गांव, गरीब और किसानों के कल्याण के लिए सरकार द्वारा संचालित योजनाओं को घर-घर तक पहुंचाना राज्य सरकार की प्राथमिकता रही है। 

    पिछले 4 वर्षों में राज्य में उज्ज्वला योजना, स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत शौचालय निर्माण योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, हर घर में बिजली कनेक्शन पहुंचाने जैसे जन कल्याणकारी योजनाओं को प्रतिबद्धता के साथ लागू किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में गरीब, आदिवासी, दलित, पीड़ित परिवार सहित सभी वर्गों के लोगों को सरकार की योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ मिले, यह सुनिश्चित करना हम सबों का लक्ष्य होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत तीसरे चरण में सरकार द्वारा राज्य में सभी कार्डधारी परिवार के महिलाओं को एलपीजी गैस सिलेंडर एवं चूल्हा उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है। वैसे कार्डधारी परिवार जिसका पहले से कोई गैस कनेक्शन नहीं है उन परिवारों के महिलाओं को भी उज्ज्वला योजना का लाभ मिल सकेगा। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का पहला एवं दूसरा चरण शत प्रतिशत सफल रहा है। तीसरे चरण में भी हम लोगों को शत प्रतिशत सफल होना है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है इसका लाभ गरीब से गरीब परिवारों तक पहुंचाना प्राथमिकता होनी चाहिए।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के किसानों के सर्वांगीण विकास के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। सरकार द्वारा राज्य में मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना प्रारंभ की गई है। इस योजना के तहत किसानों को प्रति एकड़ ₹5000 की अनुदान राशि कृषि कार्य के लिए उपलब्ध कराई जा रही है। इस योजना का लाभ उन किसानों को मिलेगा जिनके पास 5 एकड़ या उससे कम कृषि भूमि है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ" योजना को सफल बनाने के लिए राज्य में मुख्यमंत्री सुकन्या योजना की शुरुआत हुई है। इस योजना के तहत जन्म से लेकर 18 वर्ष तक के उम्र तक बेटियों को अनुदान राशि उपलब्ध कराई जा रही है। बैठक में मौजूद समिति के सदस्यों से अपील करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इन सभी जनकल्याणकारी योजनाओं को गांव गांव तक शत प्रतिशत धरातल में उतारने के लिए 20 सूत्री प्रदेश/जिला एवं प्रखंड समिति के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं प्रखंड स्तर के 20 सूत्री से जुड़े पदाधिकारी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं और पूरी प्रतिबद्धता के साथ गांव गरीब और किसानों तक पहुंचाएं।

    20 सूत्री कार्यक्रम कार्यालय समिति की इस बैठक में कृषि सचिव पूजा सिंघल ने मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना से संबंधित विस्तृत जानकारी दी। वहीं खाद्य, सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामले विभाग के सचिव अमिताभ कौशल ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तीसरे चरण की कार्य योजना पर विस्तृत प्रकाश डाला। बैठक में राज्य 20 सूत्री समिति के अध्यक्ष राकेश प्रसाद,  सभी जिलों से पहुंचे जिला एवं प्रखंड बीस सूत्री अध्यक्ष-उपाध्यक्ष मौजूद रहे।