मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय से ग्राम स्तर पर "सर्वे एवं जांच प्रोटोकॉल" कार्यक्रम का ऑनलाइन शुभारंभ करते मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन।


    मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने आज अपने आवासीय कार्यालय से कोरोना संक्रमण के उन्मूलन हेतु "ग्राम स्तर पर सर्वे एवं रैपिड एंटीजन जांच कार्यक्रम" का ऑनलाइन शुभारंभ किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी में ग्रामीण क्षेत्रों पर विशेष फोकस रखा जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य की सुरक्षा सरकार की प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव के लोगों की मानसिक स्थिति, बीमारी व पीड़ा को जानने के लिए ग्राम स्तर पर "ग्राम स्तर पर सर्वे एवं रैपिड एंटीजन जांच कार्यक्रम" की शुरुआत हुई है। कार्यक्रम के तहत गठित टीम द्वारा घर-घर पहुंच कर लोगों की स्वास्थ्य जांच तथा उपचार सुनिश्चित किया जाएगा। सरकार की स्वास्थ्य सुविधाएं आप तक पहुंचे इस निमित्त कार्यक्रम की रूपरेखा तय की गई है। इस कार्यक्रम में मुखिया, आंगनवाड़ी सेविका-सहायिका, एएनएम, जेएसएलपीएस की दीदियां, सहिया सहित अन्य फ्रंटलाइन कोरोना वारियर्स के सहयोग से कार्यक्रम की शुरुआत तथा कार्यक्रम के लक्ष्य को पूरा किया जाएगा। संक्रमण के इस दौर में लोगों की समस्याओं को दूर करना सरकार की प्राथमिकता है। हमसभी मिलकर संक्रमण को पीछे धकेलने का काम कर रहे हैं। इस बार का संक्रमण काफी घातक है। जानकारी के अभाव के कारण लोग जान जोखिम में डाल रहे हैं। लोगों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए इस कार्यक्रम की शुरुआत की गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि "ग्राम स्तर पर सर्वे एवं रैपिड एंटीजन जांच कार्यक्रम" को सफल बनाने के लिए गठित टीम के सदस्यों को ट्रेनिंग भी दी  जा रही है। ट्रेनिंग के बाद वे स्वयं को सुरक्षित रखते हुए दूसरों को सुरक्षित करने में अपनी भूमिका निभाएंगे।

    1

    मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि झारखंड प्रदेश की 75 प्रतिशत जनसंख्या ग्रामीण क्षेत्र में निवास करती है,  हमें उन तक हर हाल में पहुंचना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि विशेषज्ञों की सलाह के अनुसार कार्य योजना बनाते हुए संक्रमण से लड़ाई जारी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण नियंत्रण के मामले में देश के कई समृद्ध और अग्रणी राज्यों से बेहतर स्थिति झारखंड की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सीमित संसाधनों का बेहतर उपयोग करते हुए राज्य सरकार आगे बढ़ रही है। हर हाल में राज्य के सवा तीन करोड़ लोगों तक वैक्सीन पहुंचाना हमारी प्राथमिकता है। मौके पर रांची जिले की टीम को सर्वे एवं रैपिड एंटीजन जांच हेतु किट उपलब्ध कराया गया।

    2

    मौके पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री श्री बन्ना गुप्ता ने "ग्राम स्तर पर सर्वे एवं रैपिड एंटीजन जांच कार्यक्रम" को सकारात्मक पहल बताया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के संकल्पित प्रयास से कोरोना वैश्विक महामारी संकट से गांवों को उबारना है। इस निमित्त राज्य सरकार प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है।

    इस अवसर पर दुमका, जमशेदपुर एवं बोकारो में गठित ग्राम स्तर पर सर्वे एवं जांच प्रोटोकॉल टीम के साथ मुख्यमंत्री ने संवाद किया।

    3

    वेबिनार में मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय से राज्य के मुख्य सचिव श्री सुखदेव सिंह, विकास आयुक्त सह अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य विभाग श्री अरुण कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजीव अरुण एक्का, नगर विकास सचिव श्री विनय कुमार चौबे, एनआरएचएम के अभियान निदेशक श्री रवि शंकर शुक्ला, सीईओ जेएसएलपीएस श्री आदित्य रंजन, उपायुक्त रांची श्री छवि रंजन सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

    Recent news