मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने साहेबगंज जिले में नवनिर्मित आरटीपीसीआर लैब का ऑनलाइन उद्घाटन किया


    कोविड-19 को लेकर सैंपल जांच में तेजी लाने का सरकार लगातार प्रयास कर रही है. लोगों को सैंपल जांच में किसी तरह की दिक्कतें नहीं हो, इसका भी विशेष ध्यान रखा जा रहा है. मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने आज साहेबगंज जिले में नवनिर्मित आरटीपीसीआर लैब का ऑनलाइन उद्घाटन करने के दरम्यान ये बातें कही. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस लैब के निर्माण में सांसद श्री विजय हांसदा का अहम योगदान है. उन्होंने इसके लिए सांसद मद से राशि उपलब्ध कराई. इस लैब के चालू होने से कोरोना जांच की रफ्तार बढ़ जाएगी. इस लैब में जरूरत के हिसाब से और भी सुविधाएं बढ़ाई जाएगी, ताकि इसका इस्तेमाल अन्य जांच में भी किया जा सके.

    1

    मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों को लेकर सरकार द्वारा पहले चऱण में 22 अप्रैल से 29 अप्रैल तक लागू स्वास्थ्य सुरक्षा का आंशिक असर देखने को मिल रहा है.  पिछले एक सप्ताह के दौरान कोरोना का आंकड़ा लगभग पांच से छह हजार के बीच रह रहा है. इसके बढ़ने की पहले जो गति थी, वह लगभग स्थिर बनी हुई है. इस वजह से स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह को छह मई तक के लिए बढ़ाया गया है. उन्होंने कहा कि हम कोरोना से मजबूती से लड़ रहे हैं और काबू भी पाएंगे.

    2

    इस आरटीपीसीआर लैब में एक आऱएनए एक्सट्रैक्टर मशीन और एक और आरटीपीसीआर मशीन के साथ अन्य जरूरी संसाधन उपलब्ध  कराया जा रहा है. इस लैब में शुरू में पांच सौ सैंपलों की जांच होगी, जिसे बाद में बढ़ाकर एक हजार से पंद्रह सौ करने का लक्ष्य है. इस लैब के चालू होने से साहेबगंज के अलावा आसपास के जिलों के लोगों को भी सैंपल जांच में आसानी हो जाएगी.

    3

    साहेबगंज जिले मे आरटीपीसीआर लैब के उद्घाटन के दरम्यान मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय से मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजीव अरुण एक्का, नगर विकास एवं आवास विभाग के सचिव श्री विनय कुमार चौबे और मुख्यमंत्री के प्रेस सलाहकार श्री अभिषेक प्रसाद, नई दिल्ली से सांसद श्री विजय हांसदा, रांची के नामकुम स्थित एनएचएम से विकास आय़ुक्त -सह -स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री अरुण कुमार सिंह तथा राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के अभियान निदेशक श्री रविशंकर शुक्ला और साहेबगंज के उपायुक्त ऑनलाइन उपस्थित थे.

    Recent news