30 लाख से अधिक बच्चों को 527 करोड़ से ज्यादा छात्रवृत्ति