JNRC की परीक्षा में चान्हो नर्सिंग कौशल कॉलेज की छात्राओं ने किया उत्कृष्ट प्रदर्शन


    अनुसुचित जनजाति, अनुसुचित जाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग (कल्याण विभाग) की विशेष प्रयोजन वाहिनी “प्रेझा फ़ाउंडेशन” द्वारा संचालित “नर्सिंग कौशल कॉलेज” चान्हो, रांची की छात्राओं का JNRC की परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन पर मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने उन्हें बधाई दी और उन्होंने कहा कि हमें अपनी बेटियों पर गर्व है।

    डॉ लुईस मरांडी, मंत्री, अनुसुचित जनजाति, अनुसुचित जाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग (कल्याण विभाग) ने चान्हो नर्सिंग कौशल कॉलेज के छात्राओं के प्रदर्शन की सराहना करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दी है। उन्होंने कहा कि भविष्य में संचालित होने वाले नर्सिंग कौशल कॉलेज यथा गुमला, ईटकी-रांची, सराईकेला, चाईबासा, साहिबगंज तथा रांची कौशल कॉलेज की छात्राएं भी ऐसा ही प्रदर्शन दोहराएंगी। पिछले वर्ष रांची के चान्हो प्रखंड में नर्सिंग कौशल कॉलेज की स्थापना की गई, जिसका उद्घाटन मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने 24 फ़रवरी 2018 को किया। इस नर्सिंग कौशल कॉलेज में वंचित समुदाय, विशेषकर अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग की छात्राएं पढ़ रही हैं।

    नर्सिंग पाठ्यक्रम के एक वर्ष पूर्ण होने के बाद झारखण्ड नर्सेस रेजिस्ट्रेशन काउन्सिल (JNRC) की अप्रैल 2019 में हुई परीक्षा में चान्हो नर्सिंग कौशल कॉलेज के कुल 112 छात्राओं ने भाग लिया। 12 जून 2019 को घोषित परीक्षाफल चान्हो नर्सिंग कौशल कॉलेज के सभी 112 छात्राएं Distinction से उत्तीर्ण हुईं। झारखण्ड राज्य के तीनों टॉपर्स प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान चान्हो नर्सिंग कौशल कॉलेज की छात्राएं गीता कुमारी, प्रियंका कुमारी, वर्षा कुमारी ने प्राप्त किया।

    पिछड़ा वर्ग की गीता कुमारी 755 (94.37%), अनुसूचित जनजाति की प्रियंका कुजूर 739 अंक (92.37%), अनुसूचित जनजाति की ही प्रीति कुमारी 738 अंक (92.25%) और अल्पसंख्यक सलमा खातून 731अंक (91.37%) प्राप्त किया। 112 छात्राओं में से 46 (41%) छात्राओं ने 90% से अधिक अंक, शत प्रतिशत छात्राओं ने 80% से अधिक अंक और 82 छात्राओं ने 87.5% से अधिक अंक अर्जित किए। चान्हो नर्सिंग कॉलेज में अध्ययन हेतु अंतर्राष्ट्रीय मानकों पर आधारित सिम्युलेशन लैब तथा पाठ्यक्रम संबंधित अन्य सुविधाएं मुहैया करवाई गई है, जिसका लाभ नर्सिंग कॉलेज में अध्यनरत छात्राएं प्राप्त कर रहीं हैं।

    ज्ञात हो कि कौशल विकास को विशेष बल देने हेतु कल्याण विभाग ने वर्ष 2016 में विशेष प्रयोजन वाहिनी के रूप में प्रेझा फ़ाउंडेशन (Pan IIT ALUMNI Reach for Jharkhand Foundation) का गठन किया है। झारखण्ड के युवाओं का कौशल विकास करते हुए 100% नियोजित करने हेतु प्रेझा फ़ाउंडेशन द्वारा झारखण्ड के 20 जिलों में कुल 25 कल्याण गुरुकुल की स्थापना की गई है। आज कल्याण गुरुकुल में झारखण्ड के युवा विभिन्न ट्रेड में प्रशिक्षित होकर देश के कई राज्यों तथा विदेश में कार्यरत हैं।

    चान्हो नर्सिंग कॉलेज में प्रशासक, सहप्रशासक का कार्य सेवानिवृत आर्मी ऑफ़िसर के द्वारा किया जा रहा है। आने वाले दिनों में विभाग अपने विशेष प्रयोजन वहिनी “प्रेझा फ़ाउंडेशन” के माध्यम से 6 कौशल कॉलेज/नर्सिंग कौशल कॉलेज की शुरुआत हो रही है। इस क्रम में रांची कौशल कॉलेज का उद्घाटन माननीय मुख्यमंत्री द्वारा 1 मार्च 2019 को किया जा चुका है तथा शेष 5 नर्सिंग कौशल कॉलेज (गुमला, इटकी, रांची, सराईकेला, चाईबासा, साहिबगंज) को जुलाई 2019 में शुरू करने का लक्ष्य है।