रक्त दान, जीवन दान जैसा महान कार्य- रघुवर दास


    मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गुरुवार को कहा कि देश में गुप्त दान की महिमा वाली प्रवृति बहुत ही पुरानी है। गुप्त दान की श्रेणी में शामिल रक्त दान महादान है। रक्त दान के माध्यम से कई गरीब, असहाय जरूरतमंद मरीजों की जान बचायी जा सकती है। वर्तमान समय में कई प्रकार के नये-नये रोग बढ़ रहे हैं, साथ ही रोगियों की संख्या भी बढ़ रही है। मरीजों को रक्त के लिए बिचौलियों का सहारा लेना पड़ता है। रक्त की कमी जैसी परेशानियों से बचने के लिए राज्य सरकार द्वारा रक्त दान करने का आह्वान पूरे राज्य में किया गया है। राज्य सरकारी विभागों में कार्यरत कर्मियों को रक्त दान करने पर सरकार द्वारा एक दिन अवकाश देने की भी घोषणा की गई है। मुख्यमंत्री ने ये बातें लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जयंती के अवसर पर आयुष्मान भारत योजना के तहत रांची समाहरणालय स्थित अभिलेखागार परिसर में रांची जिला प्रशासन द्वारा आयोजित रक्त दान शिविर में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कही।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कई गरीब बच्चे-बच्चियां रक्त की कमी के कारण थैलिसिमियां, एनिमिया व सिकल सेल जैसी कई घातक बीमारियों के चपेट में आकर असमय काल के गाल समा जाते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे गरीब, असहाय बच्चे-बच्चियों को हमसबों के द्वारा किए गए रक्त दान से जीवन दान मिल सकेगा।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं स्वयं विधायक बनने से पहले भी रक्त दान शिविर के आयोजन में बढ़-चढ़कर भाग लेता था। उन्होंने कहा कि रक्त दान शिविर सिर्फ एक दिन चलने वाला कार्यक्रम नहीं होना चाहिए, बल्कि राज्य के सभी जिलों में निरंतर चलने वाला कार्यक्रम बनाएं। निरंतर रक्त दान होने से सभी जिलों के ब्लड बैंकों की रक्त कोष में बढ़ोतरी होगी, इससे जरूरतमंद मरीजों को नि:शुल्क रक्त मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि मैं स्वयं नवरात्र के बाद रक्त दान करूंगा। रक्त दान को महादान बताते हुए लोगों से रक्त दान करने की भी अपील की। साथ ही दूसरों को भी प्रेरित करने की बात कही। इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा रक्त दान करने वाले लोगों को प्रशस्ति पत्र भी दिया गया।

    इस अवसर पर उपायुक्त रांची राय महिमापत रे ने स्वागत संबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री के निदेशनुसार रांची जिला प्रशासन द्वारा रक्त दान शिविर एवं जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। समाहरणालय से जुड़े कर्मी रक्त दान शिविर में बढ़-चढ़कर रक्त दान कर रहे हैं। ऐसी शिविरों का आयोजन निरंतर चलता रहेगा। मौके पर रांची जिला प्रशासन के कई वरीय अधिकारी उपस्थित थे।