स्वच्छ झारखण्ड, स्वच्छ भारत सिर्फ अभि‍यान नहीं, एक संकल्प: रघुवर दास


    राज्यपाल श्रीमती द्रौपदी मुर्मू एवं मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर मोरहाबादी के बापू वाटिका स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया। इस मौके पर राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने अपील की कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सपनों का एक सुखद झारखण्ड, एक स्वावलंबी झारखण्ड, एक समृद्ध झारखण्ड, एक सुखद भारत, एक समृद्ध भारत और एक स्वावलंबी भारत बनाना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी ने सत्याग्रह के माध्यम से अत्याचार के प्रतिकार की अवधारणा की नींव सम्पूर्ण अहिंसा के सिद्धांत पर रखी थी, जिसने भारत को आजादी दिलाकर पूरी दुनिया के सामने लोकतंत्र, नागरिक अधिकारों एवं स्वतंत्रता के लिए आन्दोलन के नये स्वरूप को सामने रखा।

    मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का एक सपना था कि स्वच्छ भारत का निर्माण हो। आजादी के 67 वर्ष बीत गए, लेकिन पहले के किसी भी सरकार ने महात्मा के सपनों को पूरा करने में अपनी गंभीरता नहीं दिखाई। पहली बार 2014 में जब एक गरीब का बेटा देश का प्रधानमंत्री बना तो उन्होंने लाल किला से यह आह्वान किया कि हमें बापू की 150वीं जयंती पर स्वच्छ भारत उनके कदमों में देना है। पिछले 5 वर्षों में देशवासियों ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने का काम किया है। केंद्र एवं राज्य सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ स्वच्छ झारखण्ड एवं स्वच्छ भारत के निर्माण के लिए निरंतर कार्य कर रही है।

    रघुवर दास ने कहा कि आज हमें खुशी है कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सपने को पूरा करने में सफलता मिली है। सरकार और आम जनता के अथक प्रयास का ही परिणाम है कि आज हमारा झारखण्ड शत-प्रतिशत खुले में शौच से मुक्त है। उन्होंने कहा कि शत-प्रतिशत शौचालयों का निर्माण कर स्वच्छ झारखण्ड आज हम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के चरणों में समर्पित कर रहे हैं।

    प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने का लें संकल्प

    मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने का संकल्प लेने की अपील की है। इसे केवल सरकार या नगर निगम के भरोसे पूरा नहीं किया जा सकता है। इसके लिए हमें गांव, शहर, छोटी-छोटी गलियों में रहने वाले लोगों को जागरूक कर जिम्मेदार बनाना है। आम जनता को जिम्मेदारी उठानी पड़ेगी। सिंगल यूज प्लास्टिक सभी जीव-जन्तु, पेड़-पौधों एवं मनुष्य के लिए एक बड़ा खतरा है। मुख्यमंत्री ने लोगों से सिंगल यूज़ प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने की अपील की। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सभी लोग मिलकर एक स्वच्छ झारखण्ड, एक स्वच्छ भारत, सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त झारखण्ड, सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त भारत बनाने में अपनी महत्ती भूमिका निभानी है।

    लाल बहादुर शास्त्री ने देश के जवानों और किसानों को दी नई प्रेरणा

    मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की स्मृतियों को नमन करते हुए कहा कि उन्होंने “जय जवान जय किसान” से देश के सुरक्षा बल और किसानों को नई प्रेरणा दी। आज उनकी प्रेरणा से राज्य सरकार ने झारखण्ड के किसानों की समृद्धि के लिए मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना चला रही है, ताकि झारखण्ड के किसान आर्थिक रूप से सबल और समृद्धशाली बन सकें।

    महात्मा गांधी ने महिला सशक्तीकरण पर दिया जोर

    मुख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी ने महिला सशक्तीकरण पर जोर दिया। महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए तथा उन्हें स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिए महात्मा गांधी ने कार्य किया था। हमारी डबल इंजन की सरकार भी उसी के अनुसार काम कर रही है। आज महिलाएं अपने पैर पर खड़ी हो सकें, इसके लिए उन्हें सिलाई का प्रशिक्षण दिया गया है तथा प्रशिक्षणार्थियों को सिलाई मशीन के साथ सर्टिफिकेट प्रदान किया जा रहा है।

    218 प्रशिक्षणार्थियों को सर्टिफिकेट प्रदान किया गया

    झारखण्ड राज्य खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड के तहत 218 प्रशिक्षणार्थियों को रघुवर दास ने सर्टिफिकेट प्रदान किया, जिसमें ओरमांझी की पार्वती देवी, लवली चौधरी, लीना कुमारी, संध्या लकरा, झमा प्रभा, मोनी दास, चंदा प्रवीण ऋतु कुमारी पाठक तथा अन्य शामिल थीं।

    इस अवसर पर नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, सांसद रांची संजय सेठ, विधायक डॉ. जीतू चरण राम, मेयर आशा लकड़ा, डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय, कैबिनेट सचिव अजय कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार वर्णवाल, पेयजल एवं स्वच्छता सचिव आराधना पटनायक सहित अन्य गणमान्य लोग और स्कूली छात्र-छात्राएं बड़ी संख्या में उपस्थित थे।